janwarta logo
Today's E-Paper
 
Contact Us | Privacy Policy | Follow us on
facebook twitter google plus
28 नवम्बर 2021 Breaking News संत गुरु रविदास की कास्य प्रतिमा स्थापित होगी-मुख्यमंत्री  |  पेपर आउट,यूपीटीईटी परीक्षा स्थगित,आयोजक अधिकारी सवालों के घेरे में  |  352 वर्ष के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने काशी विश्वनाथ धाम का पुनरुद्धार कराया है-मुख्यमंत्री  |  आने वाले दो-तीन सालों में नई काशी की कल्पना दिखेंगी-उप मुख्यमंत्री  |  सनबीम लहरतारा में कक्षा 3 की छात्रा से घिनौनी वारदात के बाद उठा सवाल।क्या आपके मासूम बच्चे निजी स्कूलों में है सुरक्षित?
 
ज्यादा पठित
पुरुष सैक्स के लिहाज से ज्यादा आकर्षक मानते हैं ऐसी महिलाओं को
'मस्तीजादे' में सनी लियोनी-तुषार करेंगे रोमांस!
महिला-पुरुष निर्वस्त्र पिटते रहे, पुलिस देखती रही
जम्मू के पुंछ सेक्टर में भारतीय सैनिकों पर नापाक हमला, 5 जवान शहीद
एजाज खान ने लगाया कॉमेडी नाइट्स विद कपिल पर गंभीर आरोप
तीन भाषाओं में रिलीज होगी रितिक-कट्रीना की 'बैंग बैंग'
मन्नत मांगने पर यहां घड़ी चढ़ाते हैं लोग
बेवफा और चालाक है सनी लियोन!
इस टीवी शो के जरिए अब छोटे पर्दे पर आग लगाएंगी सनी लियोन
विस चुनाव 2017 : सपा ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट
दलित का घर जलाने का विरोध: प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज, हरियाणा के CM का दौरा टला
21 अक्तूबर 2015 19:00
नई दिल्ली/फरीदाबाद. हरियाणा के बल्लभगढ़ में दलित परिवार का घर और दो बच्चों को जिंदा जलाए जाने की घटना का विरोध बुधवार को तेज हो गया। दबंगों के हमले में अपने बेटे और बेटी को खो चुके जितेंद्र नाम के दलित शख्स ने दोनों बच्चों का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया। घटना के विरोध में आगरा-दिल्ली नेशनल हाईवे-2 पर चक्काजाम कर रहे लोगों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इसके बाद जाम खुलवाया गया। बढ़ते तनाव के मद्देनजर हरियाणा के सीएम मनोहरलाल खट्टर ने सुनपेड गांव का दौरा फिलहाल टाल दिया है। इस बीच, खबर है कि दलित का घर जलाए जाने की घटना की सीबीआई से जांच कराने की हरियाणा सरकार ने सिफारिश कर दी है।
क्या है मामला?
फरीदाबाद के पास बल्लभगढ़ के सुनपेड गांव में सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात कुछ लोगों ने दलित समुदाय के जितेंद्र के घर में घुसकर पेट्रोल छिड़का और आग लगा दी। फिर बाहर से दरवाजा बंदकर भाग गए। घटना में बुरी तरह से झुलसे जितेंद्र के दोनों बच्चों की दिल्ली के अस्पताल में मौत हो गई। जितेंद्र और उनकी पत्नी भी घायल हो गए। पत्नी का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में आईसीयू में इलाज चल रहा है।
बुधवार को क्या हुए डेवलपमेंट्स?
कांग्रेस वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी जितेंद्र से मिलने सोनपेड गांव पहुंचे। लेकिन यहां मीडिया के सवालों पर भड़क गए। उन्होंने कहा- कौन कह रहा है कि यह फोटो-ऑप है? लोगों को यहां जिंदा जलाया गया। लोगों की हत्याएं हो रही हैं। मैं आऊंगा, बार-बार आऊंगा। (पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)
लेफ्ट नेता वृंदा करात, आप आदमी पार्टी के नेता आशुतोष, संजय सिंह और किसान नेता योगेंद्र यादव भी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे।
बच्चों की लाश को सड़क पर रखकर बैठे परिजनों की मांग थी कि जब तक आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं होगी तब तक वे बच्चों का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे।
धरना दे रहे लोगों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। जाम खुलवाया।
बढ़ते तनाव को देखते हुए हरियाणा के सीएम मनोहर खट्टर ने सुनपेड गांव का अपना दौरा फिलहाल टाल दिया है। खट्टर मंगलवार को सुनपेड गांव जाकर पीड़ित दलित परिवार से मिलने वाले थे। सीएम के ओएसडी जवाहर यादव ने खट्टर का दौरा टलने की जानकारी दी।
> इस मामले में अब तक पांच लोगों को अरेस्ट किया गया है।
> ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर सरकार ने आठ पुलिस वालों को सस्पेंड कर दिया है।
हाईवे पर तैनात किए 400 पुलिस वाले
NH-2 पर और बल्लभगढ़ -फरीदाबाद रोड़ पर लोगों के गुस्से को देखते हुए पुलिस के साथ अर्धसैनिक बलों के 400 जवानों की तैनाती की गई। इससे पहले जाम लगा रहे लोगों को समझाने के लिए पुलिस के कई आला अफसर मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाने की कोशिश की। लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर लोगों को हाईवे से हटाया। पुलिस ने बच्चों के शवों को एंबुलेंस से उनके घर पर पहुंचा दिया।
मजबूरी में कर रहे हैं विरोध
फरीदाबाद के सुनपेड गांव में जलाए गए बच्चों के पिता जितेंद्र ने आरोप लगाया कि उन्हें अभी तक प्रशासन से किसी तरह का कोई आश्वासन नहीं मिला है। इस कारण वे विरोध को मजबूर हैं। पीड़ित परिवार के मांग है कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। बच्चों की दादी ने दोषियों को फांसी दिए जाने की मांग की है।
क्या है विवाद की वजह?
इस गांव में पिछले एक साल से तनाव है। दलितों और दूसरी जाति के लोगों के बीच झगड़ा मोबाइल को लेकर शुरू हुआ। 5 अक्टूबर 2014 को अपर कास्ट के तीन युवकों की हत्या कर दी गई। तब दलित परिवार पर हत्या का आरोप लगा था। पुलिस ने 11 को गिरफ्तार किया था। दलितों को डर था कि दबंग पूरी जाति से बदला लेंगे। लिहाजा, बाकी दलित परिवार गांव छोड़ कर चले गए। जितेंद्र भी उन्हीं में से था। मामला एससी-एसटी आयोग में गया। आयोग ने फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर से इन परिवारों को दी जाने वाली सुरक्षा के बारे में पूछा। पिछले साल दिसंबर में कमिश्नर ने लिखित में कहा कि जितेंद्र के घर के पास एक पुलिस जिप्सी, आधा दर्जन हथियारबंद जवान और दो बाइक सवार जवान तैनात रहेंगे। एसएचओ खास निगरानी भी करेंगे। इस भरोसे के बाद जितेंद्र और उसका परिवार इस साल जनवरी में गांव लौटा था।
 
कोरोना
Covid

 
ताज़ा खबर
पेपर आउट,यूपीटीईटी परीक्षा स्थगित,आयोजक अधिकारी सवालों के घेरे में
संत गुरु रविदास की कास्य प्रतिमा स्थापित होगी-मुख्यमंत्री
352 वर्ष के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने काशी विश्वनाथ धाम का पुनरुद्धार कराया है-मुख्यमंत्री
आने वाले दो-तीन सालों में नई काशी की कल्पना दिखेंगी-उप मुख्यमंत्री
सनबीम लहरतारा में कक्षा 3 की छात्रा से घिनौनी वारदात के बाद उठा सवाल।क्या आपके मासूम बच्चे निजी स्कूलों में है सुरक्षित?
अनियंत्रित ट्रेलर ने टैंकर में मारी टक्कर,चालक की मौत
मेड़ के विवाद में युवक को गोली मारकर घायल किया
लापता युवक को बरामद कर परिजनों को सौंपा
फंदे से लटकता मिला विवाहिता का शव
टेंपो चालक की जहर देकर हत्या करने की आरोपी प्रेमिका गिरफ्तार
 
 
 फोटो गैलरी  और देखे
अंतर्राष्ट्रीय
International
अनुष्का, वरुण जैसे कलाकारों ने नागालैंड में कुत्ते के मांस के पर लगे प्रतिबंध पर दी प्रतिक्रिया
नवीन चित्र
Latest Pix
ऐश्वर्या राय बच्चन और आराध्या बच्चन की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव
मनोरंजन
Entertainment
शमा सिकंदर को लॉकडाउन में भा रहा है वर्चुअल फोटोशूट
खेल
Sports
डेविड वॉर्नर की 'ताकतवर' सिक्सर ने उन्हें जमीन पर 'गिराया'
वाराणसी और आसपास
VARANASI AUR AASPAS
काशी विद्यापीठ शताब्दी वर्ष महोत्सव में नृत्य करती छात्रा
Cartoon Economic panchayat election
 वीडियो गैलरी
महेंद्र कपूर के सदाबहार गीत यहाँ सुनें
video
बाबा सहगल की वापसी, आया नया वीडियो
video
पाक से हुआ वीडियो वायरल देखे क्या कहा
video
100 किलो के ट्रेन के डिब्बों को खींचती एसयूवी कार
video
इंडिपेंडेंस डे रेसुर्जेन्से का ट्रेलर
video