janwarta logo
Today's E-Paper
 
Contact Us | Follow us on
facebook twitter google plus Blogspot
11 दिसम्बर 2018 Breaking News #RBI गर्वनर उर्जित पटेल का इस्तीफा, इस्तीफे का कारण स्पष्ट नहीं  |  अगस्ता घोटाला: सीबीआई के सामने मिशेल जाँच में सहयोग करने से कर रहा आनाकानी, 9 दिनों की और रिमांड की मांग  |  युवती की नृशंस हत्या कर तलाब किनारे फेका शव, सड़क दुर्घटना मान कर पुलिस कर रही जांच  |  उर्जित के इस्तीफे पर राहुल गांधी का बीजेपी पर हमला कहा लोकतांत्रिक संस्था पर हमला  |  भगोड़ा विजय माल्या लाया जाएगा लंदन से भारत, देखें कितना प्रतिशत लौटने की बात कही...
 
ज्यादा पठित
पुरुष सैक्स के लिहाज से ज्यादा आकर्षक मानते हैं ऐसी महिलाओं को
'मस्तीजादे' में सनी लियोनी-तुषार करेंगे रोमांस!
महिला-पुरुष निर्वस्त्र पिटते रहे, पुलिस देखती रही
जम्मू के पुंछ सेक्टर में भारतीय सैनिकों पर नापाक हमला, 5 जवान शहीद
एजाज खान ने लगाया कॉमेडी नाइट्स विद कपिल पर गंभीर आरोप
तीन भाषाओं में रिलीज होगी रितिक-कट्रीना की 'बैंग बैंग'
मन्नत मांगने पर यहां घड़ी चढ़ाते हैं लोग
बेवफा और चालाक है सनी लियोन!
इस टीवी शो के जरिए अब छोटे पर्दे पर आग लगाएंगी सनी लियोन
विस चुनाव 2017 : सपा ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट
परम धर्म संसद -रामलला का एक क्षण भी तम्बू में निवास सहन नही
26 नवम्बर 2018 22:36
Share
share on whatsapp
  एक स्वर से उठी भव्य रामलला के मन्दिर पर धर्मादेश की मांग
वाराणसी।परम धर्म संसद 1008 में दूसरे दिन भी राम मन्दिर का मुद्दा छाया रहा। देश विदेश से आये धर्मासंदो ने एक स्वर में अयोध्या में भव्य राम मन्दिर के लिए हुंकार भरी। ना सिर्फ साधु सन्तों ने बल्कि सामान्य जन मानस ने भी भगवान श्रीराम के लिए तम्बू में निवास करना सौ करोड़ सनातनियों का अपमान माना है। इसलिए रामलला का एक क्षण भी तम्बू में निवास सहन नही किया जा सकता।सीर गोवर्धन में चल रहे धर्मसंसद में दूसरे दिन सोमवार को दोनो सत्रो में मन्दिर रक्षा विधेयक के साथ साथ धर्मांतरण विधेयक, वैदिक शिक्षा पद्धति और गंगा संरक्षण जैसे विषयों पर धर्मासंदो ने गहन विमर्श किया।
प्रवर धर्माधीश स्वामीश्री: अविमुक्तेश्वरानन्द: सरस्वती महाराज ने कहा कि परम धर्म संसद के आयोजन का उद्देश्य किसी अन्य धर्म का अपमान करना बिल्कुल नही है। सभी धर्मो के तौर तरीके, विचार अलग है, सबका आदर करना ही सनातन धर्म का कर्तव्य है। हमें उनके दुःख पहुॅचानें के विचार को छोड़, उनके अच्छे विचारो को आत्मसात करना चाहिए। सनातन धर्मी होने के नाते हमारी जिम्मेदारी सबसे अधिक है। उन्होंने यह भी कहा कि जिसमें जरा सा भी धर्म है उसे हम विधर्मी नही कह सकते है।
राम जन्म भूमि का फैसला हिंदुओं के पक्ष में कराने वाले सुप्रीमकोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता परमेश्वर नाथ मिश्र ने कहा कि धर्म संसद तटस्थ है, यहाॅ से जो भी हल निकलेगा उससे पूरी दुनिया सहमत होगी। देश का हर नागरिक चाहता है कि राम मन्दिर का निर्माण हो लेकिन किसी को दुःख पहुॅचा कर नही। अयोध्या से आये रसिक पीठाधीश्वर महन्त जन्मेजय शरण महाराज ने कहा कि यह अत्यन्त दुःख का विषय है कि भगवान श्रीराम भी देश के सामान्य जनमानस की तरह दशको से न्याय का इन्तजार कर रहे है। अब समय आ गया है कि देश के समस्त सनातनी शंकराचार्य के नेतृत्व में खड़े हो और भव्य एवं नव्य राम मंदिर के निर्माण में अपनी आहूति दे।
जल पुरूष राजेन्द्र सिंह ने धर्म संसद में प्रदेश सरकार द्वारा श्रीराम के स्टैचू निर्माण के विषय पर निंदा प्रस्ताव रखा। जिसका उपस्थित धर्मासंदो ने करतल ध्वनि से समर्थन किया। उन्होंने कहा कि जहाॅ पूरे देश के सनातनी रामलला के मन्दिर के कटिबद्ध है, ऐसे में स्टैचू की बात रामभक्तों के साथ बेईमानी है। धर्माचार्य अजय गौतम ने कहा रामलला टेन्ट में है और उनके छद्म भक्त लाखों का सूट बूट पहन कर घूम रहे है। उत्तराखण्ड के गोपाल सिंह ने कहा कि धर्म से खिलवाड़ प्रकृति भी सहन नही कर पाती। जैसे ही उत्तराखण्ड के धारी देवी का मन्दिर तोड़ा गया, केदारनाथ में त्राहि - त्राहि मच गई। उत्तराखण्ड के ही हेमन्त ध्यानी ने कहा कि विकास की आसुरी दृष्टि पावनता और पवित्रता को निगल रही है। वर्तमान सरकार को लाभ हो तो वह आस्था के केन्द्रों को तोड़ने में भी नही हिचक रही है। उन्होंने दिवंगत स्वामी सानन्द द्वारा तैयार किये गये गंगा रक्षा विधेयक को सदन में सबके सम्मुख रखा और उनकी मांग पर एक स्पष्ट धर्मादेश की मांग भी की। धर्म संसद में ब्रम्हचारी सुबुद्धानन्द महाराज, प्रज्ञानन्द , स्वामी राजीव लोचन दास , स्वामी लक्ष्मण दास, अच्यूतानन्दमहाराज, इन्दुभवानन्द महाराज, जल कुमार साई, स्वामी प्रज्ञानन्द, सुभाष दास, महामण्डलेश्वर ऋषिश्वरानन्द, व्यास जी महाराज, छविराम दास, विश्व चैतन्य, रामसजीवन शुक्ल, सीताराम पाण्डेय, डाॅ. श्रीप्रकाश मिश्र, वासुदेवाचार्य जी, कृष्णानन्द उपाध्याय, राजेशपति त्रिपाठी डॉ गिरीश तिवारी,पं रवि त्रिवेदी के अलावा अमेरिका से टोनी, ब्राजील से चाल्र्स, स्पेन से अविनाश, सुनील शुक्ला, सतीश अग्रहरी, यतीन्द्र नाथ चतुर्वेदी, अनिल शुक्ला,सत्यप्रकाश श्रीवास्तव, हरिनाथ दूबे आदि शामिल हुए।
परमधर्म संसद के प्रेस प्रभारी संजय पाण्डेय ने बताया कि धर्म संसद के तीसरे दिन मन्दिर रक्षा विधेयक सहित कई महत्वपूर्ण विधेयक प्रस्तुत किये जायेंगे। सायंकाल परम धर्माधाीश जगद्गुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानन्द सरस्वती महाराज परमधर्मादेश जारी करेंगे।
अगला धर्म संसद प्रयाग में - प्रवर धर्माधीश स्वामीश्री: अविमुक्तेश्वरानन्द: सरस्वती जी महाराज ने धर्म संसद में अगले परम धर्म संसद की घोषणा की। उन्होंने बताया कि आगामी अर्धकुम्भ के अवसर पर प्रयागराज में 29 से 31 जनवरी तक परम धर्म संसद का आयोजन किया जायेगा।
दूसरे दिन भण्डारे मे दस हजार से ज्यादा भक्तो ने ग्रहण किया प्रसाद - परम धर्म संसद में दूसरे दिन भी विशाल भण्डारे का आयोजन अनवरत चलता रहा। दूसरे दिन करीब दस हजार से ज्यादा सनातनधर्मियों ने प्रसाद ग्रहण किया। भण्डारे में 800 से ज्यादा दण्डी सन्यासियों ने भी प्रसाद ग्रहण किया। खाद्य प्रभारी प्रभाकर यादव के नेतृत्व में करीब सत्तर स्वयंसेवको का दल भण्डारे की व्यवस्था संभाल रहे है।
 
 
ताज़ा खबर
सर सुंदरलाल अस्पताल में फोटो वोल्टाइक थर्मल प्लांट का उद्घाटन, मिलेगा गर्म पानी और बिजली
खसरा रूबेला टीकाकरण अभियान की शुरुआत
युवती की नृशंस हत्या कर तलाब किनारे फेका शव, सड़क दुर्घटना मान कर पुलिस कर रही जांच
उर्जित के इस्तीफे पर राहुल गांधी का बीजेपी पर हमला कहा लोकतांत्रिक संस्था पर हमला
अगस्ता घोटाला: सीबीआई के सामने मिशेल जाँच में सहयोग करने से कर रहा आनाकानी, 9 दिनों की और रिमांड की मांग
भगोड़ा विजय माल्या लाया जाएगा लंदन से भारत, देखें कितना प्रतिशत लौटने की बात कही...
#RBI गर्वनर उर्जित पटेल का इस्तीफा, इस्तीफे का कारण स्पष्ट नहीं
हंगामे और उपद्रव के बीच यूपी कालेज में छात्रसंघ चुनाव के नतीजे घोषित, देखें परिणाम...
सर्जिकल स्ट्राइक का इस्तेमाल राजनीतिक फायदे के लिए हुआ: राहुल गांधी
बुलंदशहर: फौजी जीतू के भाई ने लगाई सीएम से मदद की गुहार कहा- मेरे भाई को षड्यंत्र में फंसाया जा रहा है
 
 
 फोटो गैलरी  और देखे
अंतर्राष्ट्रीय
International
PM मोदी स्वागत समारोह में न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री श्री जॉन की का स्वागत करते हुए।
नवीन चित्र
Latest Pix
संस्कार ब्राह्मण महिला संगठन की ओर से तीज महोत्सव
मनोरंजन
Entertainment
100 करोड़ क्लब में शामिल हुई मलयालम फिल्म 'पुलीमुरुगन'
खेल
Sports
डेविड वॉर्नर की 'ताकतवर' सिक्सर ने उन्हें जमीन पर 'गिराया'
वाराणसी और आसपास
VARANASI AUR AASPAS
वाराणसी में गड्ढे या गड्ढे में बनारस
Cartoon Economic panchayat election
 वीडियो गैलरी
महेंद्र कपूर के सदाबहार गीत यहाँ सुनें
video
बाबा सहगल की वापसी, आया नया वीडियो
video
पाक से हुआ वीडियो वायरल देखे क्या कहा
video
100 किलो के ट्रेन के डिब्बों को खींचती एसयूवी कार
video
इंडिपेंडेंस डे रेसुर्जेन्से का ट्रेलर
video