janwarta logo
Today's E-Paper
 
Contact Us | Follow us on
facebook twitter google plus Blogspot
14 दिसम्बर 2019 Breaking News
 
ज्यादा पठित
पुरुष सैक्स के लिहाज से ज्यादा आकर्षक मानते हैं ऐसी महिलाओं को
'मस्तीजादे' में सनी लियोनी-तुषार करेंगे रोमांस!
महिला-पुरुष निर्वस्त्र पिटते रहे, पुलिस देखती रही
जम्मू के पुंछ सेक्टर में भारतीय सैनिकों पर नापाक हमला, 5 जवान शहीद
एजाज खान ने लगाया कॉमेडी नाइट्स विद कपिल पर गंभीर आरोप
तीन भाषाओं में रिलीज होगी रितिक-कट्रीना की 'बैंग बैंग'
मन्नत मांगने पर यहां घड़ी चढ़ाते हैं लोग
बेवफा और चालाक है सनी लियोन!
इस टीवी शो के जरिए अब छोटे पर्दे पर आग लगाएंगी सनी लियोन
विस चुनाव 2017 : सपा ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट
मीना कुमारी: 40 साल की ऐसी कहानी जिसके मरने के बाद दर्द भी लावारिस हो गए
01 अगस्त 2018 09:27
Share
share on whatsapp
  नई दिल्ली। अगर आपसे पूछे कि सफलता का पैमाना क्या है तो आपमें से कई लोगों का जवाब होगा नाम, इज्जत, शोहरत मगर यह सब होते हुए भी एक शख्स कितना तन्हा हो सकता है इसका सबसे बड़ा उदाहरण महजबीं बानों बक्श थी। महजबीं बानों बक्श जिनकी जिंदगी 40 साल की एक दर्द भरी कविता जैसी थी। वह महजबीं बानों बक्श जिनकी अदाकारी पर्दे पर देखकर सारी दुनिया ने प्यार दिया लेकिन निजी जिंदगी में वह प्यार और खुशी के लिए हमेशा तरसती रही।

बचपन में महजबीं बानों बक्श स्कूल जाना चाहती थी लेकिन उस बच्ची की ख्वाहिशों को परिवार की जरूरतों के लिए अनदेखा कर दिया गया। सात साल की उम्र में महजबीं बानों ने स्टूडियों जाना शुरू कर दिया। साल- दर- साल फिल्म-स्टूडियो और घर के बीच का रिश्ता पुख्ता होता गया और परिवार की रोज़ी-रोटी चलाने के लिए उसका बचपन लाइट, कैमरा और ऐक्सन के दरमियान कैद हो गई।

जब गोरा रंग, चांद सा चेहरा, झील सी आँखें, माथे पे बड़ी सी लाल बिंदी, काले लम्बे घुंगराले बाल और सर पर साड़ी का पल्लू लिए वह परदे पर आई तो किसी भारतीय नारी की मुकम्मल तस्वीर है जैसी लगी। बेपनाह हुस्न और बेजोड़ अदाकारी की मल्लिका को दुनिया हिंदी सिनेमा जगत की ट्रेजेडी क्वीन मीना कुमारी के नाम से जानती है।

वही मीना कुमारी जो जब तक जिंदा रही तब तक उनका दर्द से इस कदर रिश्ता रहा कि जब 31 मार्च 1971 को उन्होंने दुनिया को अलविदा कहा तो दर्द भी लावारिस हो गए, यतीम हो गए, शायद फिर मीना कुमारी जैसा कोई उन्हें अपनानेवाला मिला।

बचपन से ही शुरू हो गई ट्रेजिडी
मीना कुमारी की जिंदगी में ट्रेजिडी उनके पैदा होने के साथ ही शुरू हो गई थी। 1 अगस्त 1932 में थिएटर आर्टिस्ट अली बक्श के घर जन्मी मीना के पिता की ख्वाहिश एक बेटे के लिए थी लेकिन खुदा ने उनके घर मीना के रूप में एक नायाब तोहफा भेजा। हालात कुछ ऐसे थे कि मीना के पैदा होने पर अली बक्श के पास डिलिवरी करवाने वाले डॉक्टर की फीस भरने तक को पैसे नहीं थे। उसकी परवरिस सही से न कर पाने के भय से उनके पिता ने उन्हें अनाथालय में छोड़ आए। हालांकि बाद में वह मीना को वापस ले आए।

मासूम मीना को बचपन से ही पढ़ने का बहुत शौक था मगर कभी हालात इतने बेहतर नहीं हुए कि वह स्कूल और अभिनय साथ-साथ कर सके। उन्हें बचपन से ही हिंदी और अंग्रेजी से ज्यादा उर्दू पढ़ने का शौक था। कहा जाता है कि वह अकसर सेट पर किताबें लेकर पहुंचती थीं।

मीना कुमारी लगभग तीस साल पर्दे पर अभिनय करती रही और इस दौरान उन्होंने 99 फिल्मों के अभिनय किया। उनका करियर बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट 1939 में 'लेदर फेस' नामक फिल्म से शुरू हुई। इस फिल्म में महजबीं बानों बक्श के किरदार का नाम मीना रखा गया है और बाद में यही नाम इनकी पहचान बनी।

कमाल अमरोही से हुआ इश्क
इश्क की कोई उम्र नहीं होती शायद मीना कुमारी के जिंदगी में यह बात सटीक बैठती है। मीना को 18 साल की उम्र में खुद से 14 साल बड़े कमाल अमरोही से इश्क हो गया। प्यार भी ऐसा कि पहली बार एक मैगजीन में छपी कमाल अमरोही तस्वीर को देखकर ही उन्हें दिल दे बैठी। इसके बाद फिल्म दायरा के सेट पर नजदीकियां बढ़ी और मीना को कमाल भी दिल दे बैठे। पहले से शादीशुदा अमरोही उनके प्‍यार में पागल हो गए। दोनों के घरवाले इस शादी के लिए राजी नहीं थे लेकिन दोनों ने अपने दोस्तों की मदद से 14 फरवरी 1952 को शादी कर ली।

जैसे ही लगा कि मीना की जिंदगी में अमरोही के आने से अब दुखों का बोझ कम होगा लेकिन किस्मत ने एक बार फिर दगा दिया। दोनों के बीच कई गलफहमियां हो गई। मीना बच्चा चाहती थी लेकिन अमरोही नहीं। मीना को हर बात के लिए रोका-टोका जाने लगा। मनमुटाव बढ़ने के चलते दोनों दस साल तक रिश्ते की डोर को संभाले बैठे लेकिन अंत में 1964 में अलग हो गए।

मीना कुमारी जिससे प्यार सभी करते थे लेकिन फिर भी वह तन्हा रही
मीना एक थी लेकिन उनके प्रेमी अनेक थे। मीना कुमारी का नाम कई लोगों से जोड़ा गया। फिल्म बैजू बावरा के निर्माण के दौरान नायक भारत भूषण ने उनको अपने दिल की बात कही तो राजकुमार तो उनके प्यार में इतने खो चुके थे कि अकसर सेट पर डायलॉग भूल जाते थे। इसके अलावा मीना-धर्मेन्द्र के रोमांस की खबरें भी फैली।

जिंदगी के गमों ने लगाई शराब की लत
जिंदगी के गमों से तंग आकर मीना ने शराब का सहारा लेना शुरू कर दिया। उनकी कई बॉलिवुड के स्टार के साथ शराब पीने की खबरे आई। कहा जाता है कि धर्मेन्द्र की बेवफाई ने मीना को अकेले में भी पीने पर मजबूर किया। वे छोटी-छोटी बोतलों में देसी-विदेशी शराब भरकर पर्स में रखने लगीं।

अशोक कुमार मीना कुमारी के दोस्त थे और उनसे मीना को शराब के नशे में नहीं देखा गया। उन्होंने मीना कुमारी को शराब से दूर करने के लिए होमियोपैथी की छोटी गोलियां देने की कोशिश की लेकिन मीना ने नहीं लिया। मीना ने अशोक कुमार से कहा-'दवा खाकर भी मैं जीऊंगी नहीं, यह जानती हूँ मैं।'

अंदर से पूरी तरह टूट चुकी मीना को कभी जिंदगी ने गले नहीं लगाया इसलिए 31 अगस्त 1972 को मीना मौत के ही बांहों में समा गई। मीना अभिनय के साथ एक बेहतरीन शायरा भी थी और जब इस दुनिया को इस बेहतरीन ट्रेजिडी क्वीन ने अलविदा कहा तो उन्हीं की लिखी पंक्ति सत्य प्रतीत होती दिखी

चांद तन्हा है आसमां तन्हा, दिल मिला है कहां-कहां तन्हा
बुझ गई आस, छुप गया तारा, थरथराता रहा धुआं तन्हा
राह देखा करेगा सदियों तक, छोड़ जाएंगे ये जहां तन्हा।









#Meena Kumari #Latest news of Varanasi in hindi #varanasi top news in hindi #Breaking News varanasi in hindi #varanasi latest news in hindi #Delhi latest news #Congress latest news#BJP latest news in #PM Modi latest news in hindi #Modi #CM Yogi latest news in hindi #Yogi #Jdu latest news in hindi #RJD #Mumbai #lacknow news in hindi #Mahatma gandhi #Sonia Gandhi news in hindi #Rahul gandhi latest news in hindi #latest Politics news in hindi #latest Crime news in hindi #Entertainment #Sports news #Bollywood news in hindi #samachar in hindi #khabar #Rajaniti #apradh #rajnniti #वाराणसीताजाखबर #खबर #ब्रेकिंगन्यूज़ #लेटेस्ट #सुर्खियां #राजनीति #अपराध #काशी #बनारस #नईदिल्ली#समाचार #टुडे #टॉप #today news in hindi #Top news in hindi #UP #Uttar Pradesh #उत्तरप्रदेश#hindi #हिंदी #इंडिया #India news in hindi #यूपी
 
AD

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं
Happy deepawali

 
ताज़ा खबर
दिल्ली में भीषण आग से हाहाकार, 43 लोगों की मौत
अब कर्मचारियों की छंटनी होगी आसान
काशी घाट-वाक् पर भी हुआ मिर्गी जन जागरण
काशी की गंगा जमुनी तहजीब मिसाल है
कौशल राज शर्मा अब होंगे वाराणसी के जिलाधिकारी, 25 आईएएस के तबादले,देखें पूरी लिस्ट
वाराणसी के एसएसपी का स्थानांतरण, प्रभाकर चौधरी अब संभालेंगे कार्यभार
धनतेरस के दिन लूट व हत्या,एसएसपी पर पथराव,घायल
गौरांग राठी नगर आयुक्त तथा मधुसूदन नागराज वाराणसी के सीडीओ होंगे
"भज विश्वनाथम्" है श्री काशी विश्वनाथ मंदिर की सचित्र गाथा
डीएल-आरसी नही तो भी तत्काल चालान नही काट सकती पुलिस,जाने नियम
 
 
 फोटो गैलरी  और देखे
अंतर्राष्ट्रीय
International
PM मोदी स्वागत समारोह में न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री श्री जॉन की का स्वागत करते हुए।
नवीन चित्र
Latest Pix
संस्कार ब्राह्मण महिला संगठन की ओर से तीज महोत्सव
मनोरंजन
Entertainment
100 करोड़ क्लब में शामिल हुई मलयालम फिल्म 'पुलीमुरुगन'
खेल
Sports
डेविड वॉर्नर की 'ताकतवर' सिक्सर ने उन्हें जमीन पर 'गिराया'
वाराणसी और आसपास
VARANASI AUR AASPAS
वाराणसी में गड्ढे या गड्ढे में बनारस
Cartoon Economic panchayat election
 वीडियो गैलरी
महेंद्र कपूर के सदाबहार गीत यहाँ सुनें
video
बाबा सहगल की वापसी, आया नया वीडियो
video
पाक से हुआ वीडियो वायरल देखे क्या कहा
video
100 किलो के ट्रेन के डिब्बों को खींचती एसयूवी कार
video
इंडिपेंडेंस डे रेसुर्जेन्से का ट्रेलर
video